Mass sucide : जब 900 लोगो ने एकसाथ की आत्महत्या, क्या थी वजह

Must Read

CAA: क्या है और क्यों हो रहा है इसे लेकर बवाल शाहीन बाग में, समझे आसान शब्दो में

देश में घुसपैठियों का मामला काफी समय से चर्चा का विषय है। घुसपैठियों को देश से बाहर...

454 साल के बाद 6 राशियों पर प्रसन्न हुए महादेव, 13 जनवरी को बदलेगी किस्मत

छात्रों का पढाई की ओर मन आकर्षित होगा, आपका व्यवसाय पहले से अधिक अच्छा चलेगा। बिजनेस में...

कुछ महीने पहले देश की राजधानी दिल्ली में एक दिल दहला देने वाली घटना हुई थी, जिसमें अंधविश्वास में पड़कर एक ही परिवार के 11 लोगों ने एक साथ आत्महत्या कर ली थी। लेकिन क्या आपको पता है कि अंधविश्वास के कारण अमेरिका के पास स्थित गुयाना के जोंसटाउन में एक साथ 900 से ज्यादा लोगों ने आत्महत्या कर ली थी?

इस भयानक घटना को अब तक की सबसे बड़ी आत्महत्या की घटनाओं में से एक माना जाता है, जिसमें एक साथ 900 से ज्यादा लोगों ने जहर पीकर आत्महत्या कर ली थी और जिसने जहर पीने से इनकार किया, उन्हें जबरन पिला दिया गया था।

यह घटना 40 साल पहले की है। 18 नवंबर, 1978 को यह दिल दहला देने वाली घटना घटी थी, जिसके बारे में सुनकर हर कोई हैरत में पड़ गया था। दरअसल, इस घटना के पीछे जिम जोंस नामक एक धर्मगुरु का हाथ था। वो खुद को भगवान का अवतार बताता था।

इसे भी पढ़े :

इस घटना की शुरुआत कुछ ऐसे हुई कि जिम जोंस ने लोगों के बीच अपनी पैठ बढ़ाने के लिए जरूरतमंद लोगों की मदद के नाम पर साल 1956 में ‘पीपल्स टेंपल’ (लोगों का मंदिर) नाम का एक चर्च बनाया और अपनी धार्मिक बातों और अंधविश्वास के दम पर उसने हजारों लोगों को अपना अनुयायी बना लिया।चूंकि जिम जोंस कम्युनिष्ट विचारधारा का था और उसके विचार अमेरिकी सरकार से अलग थे। इसलिए वो अपने अनुयायियों के साथ शहर से दूर गुयाना के जंगलों में चला गया और वहीं पर उसने एक छोटा सा गांव भी बसा दिया। लेकिन कुछ दिनों के बाद ही उसकी असलियत लोगों के बीच आने लगी। दरअसल, जिम जोंस अपने अनुयायियों (चाहे वो महिला हो या पुरुष) से दिनभर काम कराता था और रात में जब वो थक-हारकर सोने के लिए जाते तो वो उन्हें सोने भी नहीं देता था और अपना भाषण शुरू कर देता था। इस दौरान उसके सिपाही घर-घर जाकर देखते थे कि कहीं कोई सो तो नहीं रहा।अगर कोई भी सोता हुआ पाया जाता था वो उन्हें कड़ी सजा देता था। यहां तक कि वो लोगों को गांव से बाहर भी जाने देता था। पुरुष और महिलाएं जब काम करती थीं, तो उनके बच्चों को एक कम्युनिटी हॉल में रखा जाता था। उसके सिपाही गांव के चारों ओर दिन-रात पहरा देते रहते थे, ताकि कोई वहां से भाग न जाए।

Mass sucide : जिम जोंस

जिम जोंस ने अपने अंधविश्वास का जाल इस कदर फैला रखा था कि वो जो कहता, लोग उसे मान लेते। इस बीच अमेरिकी सरकार को वहां हो रही गतिविधियों के बारे में पता चला तो सरकार ने कार्रवाई करने की सोची। लेकिन इसका पता जिम जोंस को भी चल गया और उसने अपने सभी अनुयायियों को एक जगह इकट्ठा होने को कहा।

कहा जाता है कि इस दौरान जोंस ने लोगों से कहा, ‘अमेरिकी सरकार हम सबको मारने आ रही है। इससे पहले कि वो हमें गोलियों से छलनी करें, हम सबको पवित्र जल पी लेना चाहिए। ऐसा करने से हम गोलियों के दर्द से बच जाएंगे।’

Mass sucide : drum of poision

जिम ने लोगों से कहा कि अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो वो हमें बम से उड़ा देंगे और जो बच जाएंगे उनके साथ जानवरों जैसा सलूक करेंगे। महिलाओं के साथ रेप करेंगे, बच्चों को तरह-तरह की तकलीफें देंगे। इसलिए हमें खुद को उनसे बचाने के लिए पवित्र जल पीना पड़ेगा।जोंस ने पहले ही एक बड़े से टब में खतरनाक जहर मिलाकर एक सॉफ्ट ड्रिंक बनवा लिया था और लोगों को पीने के लिए दे दिया। इस दौरान जिसने भी जहरीला ड्रिंक पीने से मना किया, उन्हें जबरन पिलाया गया। इस तरह एक अंधविश्वासी के चक्कर में पड़ 900 से ज्यादा लोगों ने अपनी जान गंवा दी। इनमें 300 से अधिक बच्चे भी शामिल थे।

इस घटना को अब तक के सबसे बड़े नरसंहारों में से एक माना जाता है। कहा जाता है कि लोगों के मरने के बाद जिम जोंस का शव भी एक जगह पाया गया था। उसने खुद को गोली मार ली थी या शायद किसी ने उसके कहने पर उसे गोली मारी थी। 

Leave A Reply

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Latest News

CAA: क्या है और क्यों हो रहा है इसे लेकर बवाल शाहीन बाग में, समझे आसान शब्दो में

देश में घुसपैठियों का मामला काफी समय से चर्चा का विषय है। घुसपैठियों को देश से बाहर...

Tanhaji aka Tanaji Latest Update About 4 Full HD Movie Download On Filmyzilla, Pagalworld, Tamilrockers & Torrent

TanhajiSynopsis:Tanhaji Malusare was an unsung warrior from the 17th century. His acts...

454 साल के बाद 6 राशियों पर प्रसन्न हुए महादेव, 13 जनवरी को बदलेगी किस्मत

छात्रों का पढाई की ओर मन आकर्षित होगा, आपका व्यवसाय पहले से अधिक अच्छा चलेगा। बिजनेस में आपको थोड़ा अधिक धन लाभ...

हर गर्भवती के लिए ऐसी ही एक पोटली जरूरी है; जानें क्या है इसमें

मध्य प्रदेश के बड़वानी जिले में स्थित दानोत गांव की एक खबर देशभर में चर्चा का विषय बनी हुई है। दानोत गांव...

आर्मी चीफ़ मुकुंद नरवणे बोले- ‘अगर संसद कहे तो PoK पर करेंगे कार्रवाई’

भारत के नए आर्मी चीफ़ जनरल मनोज मुकुंद नरवणे ने शनिवार को नई दिल्ली में अपनी पहली प्रेस कॉन्फ़्रेंस की.

More Articles Like This